maharashtraprimenews
ठळक बातम्या
Breaking newsgeneralPublic Interest

टोयोटा टेक्निकल ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट (टीटीटीआई) के छात्रों ने इंडिया स्किल्स प्रतियोगिता 2024 में बाजी मारी

बेंगलुरु, मई 2024 : “स्किल इंडिया मिशनऔरविकसित भारत 2047″ कोसमर्थन देने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम उठाते हुए, टोयोटा टेक्निकल ट्रेनिंगइंस्टीट्यूट (टीटीटीआई) ने आज नेशनल स्किल डेवलपमेंट कौंसिल (राष्ट्रीयकौशल विकास निगमएनएसडीसी) द्वारा आयोजित इंडिया स्किल्स कंपीटिशन2024 में अपने छात्रों के बेजोड़ प्रदर्शन की घोषणा की। प्रेम वी ने व्यक्तिगतप्रतियोगी के रूप में एडिटिव मैन्युफैक्चरिंग में स्वर्ण पदक जीता। मैन्युफैक्चरिंगटीम चैलेंज में, मोहित एमयू, हरीश आर और नेल्सन वी ने एक टीम के रूप मेंजीत हासिल की और स्वर्ण पदक प्राप्त किया। मेट्रॉनिक्स में, दर्शन गौड़ासीएस और भानु प्रसाद एसएम की टीम ने भी स्वर्ण पदक जीता, जबकि हेमंतकेवाई और उदय कुमार बी ने इसी श्रेणी में रजत पदक जीता। इसके लावा, रोहन एएस को रजत पदक और श्री सुदीप एसएम को व्यक्तिगत प्रतिभागी केरूप में कार पेंटिंग में उत्कृष्टता का पदक मिला। हर दो साल में आयोजित होनेवाली यह प्रतियोगिता युवा प्रतिभाओं के लिए क्षेत्रीय और राष्ट्रीय स्तर पर अपनेकौशल का प्रदर्शन करने के लिए एक मंच के रूप में का करती है।एनएसडीसी के सहयोग से टीटीटीआई युवाओं के बीच जमीनी स्तर पर कौशलविकास को बढ़ावा देने के लिए, कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्रालय(एमएसडीई) के दृष्टिकोण के अनुरूप अपना समर्थन देता है।

टीटीटीआई ने प्रतियोगिता केऑफसाइटवाले चार हिस्से का आयोजन कियाऔर उसमें भाग लिया तथा मेजबानी की, जो यशोभूमि द्वारका, नई दिल्ली मेंआयोजित की गई थी समें मैन्युफैक्चरिंग टीम चैलेंज, मेक्ट्रोनिक्स, कारपेंटिंग और एडिटिव मैन्युफैक्चरिंग शामिल थे टीटीटीआई के छात्रों नेअनुकरणीय कौशल और समर्पण का प्रदर्शन किया, जिससे केवल संस्थानबल्कि देश का भी नाम रोशन हुआ। टीटीटीआई के नेतृत्व में प्रतियोगिता केऑफसाइटखंड में देश भर के प्रतियोगियों की उत्साही भागीदारी औरजोशीले प्रदर्शन देखने को मिले। टीटीटीआई ने प्रतियोगिता के सुचारू संचालनको सुनिश्चित करने के लिए स्थान, बुनियादी ढांचे, मशीनरी, उपभोग्य सामग्रियोंऔर जूरी सहित विभिन्न क्षेत्रों में सहायता प्रदान की।

इस अवसर पर अपने विचार रखते हुए, एनएसडीसी की मार्केटिंग और संचारमहाप्रबंधक सुश्री मोनिका नंदा ने कहा, मैं टोयोटा टेक्निकल ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट(टीटीटीआई) के ल्लेखनीय छात्रों को इंडिया स्किल्स कंपीटिशन 2024 मेंउनकी शानदार उपलब्धियों के लिए हार्दिक बधाई देती हूं। उनके अनुकरणीयकौशल और समर्पण टीटीटीआई के प्रशिक्षण कार्यक्रमों की प्रभावशीलता काप्रमाण हैं। ये विजेता केवल अपने संस्थान को सम्मान दिलाते हैं बल्किवैश्विक स्तर पर भारतीय कौशल विकास की प्रतिष्ठा भी बढ़ाते हैं। हमें विश्वासहै कि वर्ल्ड स्किल्स प्रतियोगिता के लिए चुने गए छात्र उत्कृष्टता की इसविरासत को जारी रखेंगे और अंतरराष्ट्रीय मंच पर भारत को गौरवान्वित करेंगे।

टोयोटा किर्लोस्कर मोटर के एक्जीक्यूटिव वाइस प्रेसिडेंट, वित्त एवं प्रशासनश्री जी. शंकर ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा, हम इंडिया स्किल्सप्रतियोगिता 2024 में टीटीटीआई के छात्रों की उल्लेखनीय उपलब्धियों पर बहुतगर्व महसूस करते हैं। हम उनकी सफल यात्रा से खुश हैं और मानते हैं कि उनकीकड़ी मेहनत के कारण वे इस मुकाम तक पहुँचे हैं। हम प्रशिक्षकों, संकायसदस्यों और सभी हितधारकों को धन्यवाद देते हैं जिन्होंने हमें गौरवान्वित कियाहै। हम विजेताओं को 24 सितंबर को ल्योन, फ्रांस में होने वाली विश्व कौशलप्रतियोगिता 2024 के लिए और उनकी अगली यात्रा के लिए शुभकामनाएं देते हैंताकि वे अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर सकें। टीटीटीआई के माध्यम से हम ग्रामीणयुवाओं को विश्व स्तरीय प्रतिस्पर्धी तकनीशियन में बदलने और सभी के लिएसामूहिक खुशी पैदा करने के लिए समाज के प्रति अपनी प्रतिबद्धता की पुष्टिकरते हैं और इस तरहकौशल भारततथा विकसित भारत 2047′ जैसे राष्ट्रीयलक्ष्यों के साथ जुड़ने का प्रयास करते हैं। वे के लिए खुशी पैदा करनेकेहमारे मिशन के साथ पूरी तरह से तालमेल में हैं। इसके लिए हम युवाओं कोज्ञान प्रदान करके विश्व स्तर पर प्रतिस्पर्धी तकनीशियनों के रूप में विकसितकरते हैं।

इसके अलावा, टीटीटीआई को यह एलान करते हुए खुशी हो रही है कि इंडियास्किल्स कंपीटिशन के शीर्ष प्रतियोगी 10 से 15 सितंबर 2024 के बीच फ्रांसके लियोन में होने वाली प्रतिष्ठित विश्व कौशल प्रतियोगिता में भारत काप्रतिनिधित्व करेंगे। 1950 में शुरू की गई विश्व कौशल प्रतियोगिता, अंतरराष्ट्रीय सहयोग के माध्यम से कौशल उत्कृष्टता और विकास के लिए एकवैश्विक मंच के रूप में काम करती है। पिछले आयोजनों में भारत की भागीदारीने वैश्विक मंच पर देश की प्रतिभा और क्षमता को प्रदर्शित किया है।

2007 में अपनी स्थापना के बाद से, टीटीटीआई ग्रामीण युवाओं के बीच उन्नततकनीकी शिक्षा प्रदान करने और समग्र विकास को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्धहै। छात्रों की संख्या में नियोजित वृद्धि आर्थिक रूप से चुनौतीपूर्ण छात्रों कोसशक्त बनाने, विश्व स्तरीय तकनीशियन बनाने, सामाजिक विकास औररोजगार को बढ़ाने के लिए टीकेएम की प्रतिबद्धता को पुष्ट करती है। महिलाछात्रों के प्रवेश को बढ़ावा देने के लिए हाल ही में की गई पहलों में से एक, ‘टोयोटा कौशल्याको छात्रों द्वारा अच्छी प्रतिक्रिया मिली है। यह युवाओं कोविनिर्माण उद्योग से संबंधित कौशल हासिल करने का एक अनूठा अवसर प्रदानकरता है, जिसमें सैद्धांतिक शिक्षा को ऑनजॉब प्रशिक्षण (ओजेटी) के साथजोड़कर उनकी रोजगार क्षमता को बढ़ाया जाता है। इसके अलावा, टीटीटीआईऔर टीकेएम में प्रशिक्षित होने के बाद हमारे कई कर्मचारियों को वैश्विकवातावरण में व्यावहारिक अनुभव प्राप्त करने के लिए जापान में प्रशिक्षित होनेका अवसर मिलता है।

इंडिया स्किल्स प्रतियोगिता के बारे में

इंडिया स्किल्स प्रतियोगिता का आयोजन राष्ट्रीय कौशल विकास निगम द्वाराकिया जाता है, जो कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय (एमएसडीई) के तहतकाम करने वाला एक शीर्ष कौशल विकास संगठन है। इंडिया स्किल्स, देश कीसबसे बड़ी कौशल प्रतियोगिता है, जिसे कौशल के उच्चतम मानकों को प्रदर्शितकरने के लिए डिज़ाइन किया गया है और यह युवाओं को राष्ट्रीय तथाअंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए एक मंच प्रदान करता है।इंडिया स्किल्स प्रतियोगिताक्षेत्रीय और राष्ट्रीयराज्य सरकारों, उद्योग, सेक्टर स्किल कौंसिल (एसएससी), राज्य कौशल विकास मिशन(एसएसडीएम), कॉरपोरेट्स और भागीदार संस्थानों के सहयोग से हर दो साल मेंआयोजित की जाती है। इंडिया स्किल्स प्रतियोगिता में जमीनी स्तर तक पहुँचनेऔर प्रभाव डालने की क्षमता है।

विश्व कौशल प्रतियोगिता के बारे में

1950 में शुरू की गई वर्ल्ड स्किल्स कंपीटिशन अंतरराष्ट्रीय सहयोग औरविकास के माध्यम से कौशल उत्कृष्टता और विकास के लिए वैश्विक केंद्र है।यह सरकार, शिक्षा, उद्योग और संघ के नेताओं के लिए कौशल प्रबंधन सेसंबंधित प्रासंगिक और महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा करने के लिए वैश्विक बैठकस्थल है।

2019 की प्रतियोगिता में 75 देशों के 1300 से अधिक प्रतियोगियों ने भागलिया, जिन्होंने 56 कौशल सेटों में एकदूसरे को चुनौती दी। भारत ने 45 कौशलों में भाग लिया और संबंधित श्रेणियों में 1 स्वर्ण, 1 रजत, 2 कांस्य और15 उत्कृष्टता पदक जीते। टीम में 46 प्रतिभाशाली युवा दिमाग शामिल थे, जिन्होंने 2007 में भारत द्वारा प्रतियोगिता में भाग लेने के बाद से अपना सर्वश्रेष्ठप्रदर्शन किया। प्रतिभागियों का चयन राष्ट्रीय कौशल विकास परिषद(एनएसडीसी) के मार्गदर्शन में एक राष्ट्रव्यापी स्क्रीनिंग प्रक्रिया के माध्यम सेकिया गया था।

Overview of TKM

Equity participation

Toyota Motor Corporation (Japan) : 89%, Kirloskar Systems Limited (India) : 11%

Number of employees

Approx. 6,000

Land area

Approx. 432 acres (approx.1,700,000 m2)

Building area

74,000 m2

Total Installed Production capacity

Up to 3,42,000 units

Overview of TKM 1st Plant:

Established

October 1997 (start of production: December 1999)

Location

Bidadi

Products

Innova HyCross, Innova Crysta , Fortuner, Legender manufactured in India.

Installed Production capacity

Up to 1,32,000 units

Overview of TKM 2nd Plant:

Start of Production

December 2010

Location

On the site of Toyota Kirloskar Motor Private Limited, Bidadi

Products

Camry Hybrid, Urban Cruiser Hyryder, Hilux

Installed Production capacity

Up to 2,10,000 units

*Other Toyota Models: Glanza, Rumion, Urban Cruiser Taisor

**Imported as CBU: Vellfire, LC 300

Related posts

टाटा मोटर्सने सानंद प्‍लांटमधून १ दशलक्षव्‍या कार सादरीकरणाला साजरे केले*

Shivani Shetty

कर्करोगाचे रुग्ण यांच्याबाबत सामाजिक पूर्वग्रह हाताळ्यासाठी मोहीम

Shivani Shetty

कॅडीसच्या महसूलात वार्षिक २५ टक्‍क्‍यांची वाढ

Shivani Shetty

Leave a Comment